Wednesday, November 12, 2008

इनका क्या कसूर





पिछले तीन दो दिन में देहरादून के आसपास जंगली जानवर मारे गए
फोटो नंबर एक में मसूरी के पास जंगल में मरी पड़ी यह जंगली बिल्ली है। वन विभाग पहले तो वन विभाग को पता ही नहीं चला कि यह जानवर क्या है। बाद में इसका बिसरा सुरक्षा वन्य जीव संस्थान भिजवा दिया। इस बेचारे की मौत किसी वाहन से टकरा कर हुई है।
फोटो नंबर दो में चलते वाहन से टकरा कर राजाजी पार्क से निकला सांभर मारा गया और सड़क के किनारे पड़ा है।
फोटो तीन में गुलदार का शव लेकर वन कर्मचारी ले जा रहे हैं। इसकी मौत देहरादून से पांच किमी दूर राजपुर के पास हुई है। इसकी मौत का पता तो पोस्टमार्टम के बाद भी नहीं चल पाया। अलबत्ता वन विभाग ने आनन फानन मे इसके शव को जला दिया। वैसे इस इलाके में ग्रामीण अपनी फसलों को जंगली सुअरों से बचाने के लिए रस्सी या तार के फंदे लगाते है। शायद यह गुलदार भी इन्हीं फंदे में फंस गया हो। अब विभाग जांच करवा रहा है।

2 comments:

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi said...

कोई कसूर नहीं जी इन का। मनुष्य से अधिक हिंसक कोई प्राणी दुनियाँ में नहीं।

seema gupta said...

"very painful and shameful to see"

Regards